Join Indian Army / इंडियन आर्मी भर्ती की पूरी जानकारी पढ़े।

Join Indian Army / इंडियन आर्मी भर्ती की पूरी जानकारी पढ़े।

June 30, 2018 16 By Admin

भारतीय सेना लगभग 14 लाख है जिसमे से हर साल भारतीय सेना के जवान रिटायर होते है तथा रिटायर हुए जवानों के स्थान पर सोल्जर का रिक्रूटमेंट इंडियन आर्मी भर्ती के द्वारा किया जाता है। इंडियन आर्मी भर्ती के लिए आप Join indian army की वेबसाइट पर जाकर अप्लाई कर सकते है। आज हम बात करेंगे Indian Army Soldier recruitment eligibility, selection process के बारे में। सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि इंडियन आर्मी भर्ती देखने के लिए क्या क्या काबिलियत होनी चाहिए।

Educational Eligibility For Indian Army rally

नीचे दी गयी टेबल में आप इंडियन आर्मी भर्ती में JCO/ORs recruitment की अलग अलग entry scheme देख सकते है। इसमे प्रत्येक Entry Scheme के सामने minimum Education eligibility तथा आयु सीमा भी दी गयी है। अपनी एलिजिबिलिटी के अनुसार आप Indian army join कर सकते है।



CategoryEducationAge
Soldier General Dutyमैट्रिक में कुल 45% मार्क्स तथा प्रत्येक सब्जेक्ट में 33% मार्क्स। यदि कैंडिडेट्स ने 12वी पास की है तो उसके लिए % नही देखी जाएगी।17 ½ - 21 वर्ष
सोल्जर टेक्निकल
(सभी आर्म्स जैसे EME, Signal, Arty, AAD
सोल्जर टेक्निकल - 12वी साइंस मध्यम से की हो जिसमें फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ तथा इंग्लिश सब्जेक्ट्स हो। 12वी कम से कम 50% मार्क्स हो तथा प्रत्येक सब्जेक्ट में कम से कम 40% मार्क्स हो
सोल्जर टेक्निकल (Aviation & Ammunition Examiner) - या तो सोल्जर टेक्निकल वाली एलीजिबिलिटी हो अन्यथा किसी मानक पॉलीटेक्निक इंस्टिट्यूट से 3 वर्ष का इंजीनियरिंग डिप्लोमा ( इलेक्ट्रिकल, मेकैनिकल, ऑटोमोबाइल, कंप्यूटर साइंस) होना चाहिए।
17 ½ - 23 वर्ष
सोल्जर क्लर्क/ स्टोर कीपर टेक्निकल (SKT)(a) 12वी में प्रत्येक सब्जेक्ट में 50% मार्क्स तथा कुल 60% मार्क्स होने जरूरी है।
(b) 10 वी या 12वी में इंग्लिश तथा गणित/एकाउंट्स सब्जेक्ट होने अनिवार्य है तथा इन सब्जेक्ट्स में कम से कम 50% मार्क्स होने चाहिए।
17 ½ - 23 वर्ष
सोल्जर नर्सिंग असिस्टेंट (आर्मी मेडिकल कोर)12वी में साइंस मध्यम में इंग्लिश, फिजिक्स, केमिस्ट्री तथा बायोलॉजी विषय होने चाहिए तथा प्रत्येक सब्जेक्ट में कम से कम 40% मार्क्स होने चाहिए तथा कुल 50% मार्क्स होने चाहिए यदि कैंडिडेट ने बॉटनी/जूलॉजी/बायोसाइंस से BSc किया हुआ है तो 12वी में ऊपर दी गयी % अनिवार्य नही है परन्तु इंग्लिश, फिजिक्स, केमिस्ट्री तथा बायोलॉजी सब्जेक्ट्स होना अनिवार्य है।17 ½ - 23 वर्ष
सोल्जर ट्रेड्समैन (सभी आर्म्स ट्रेड्समैन) Syce, mess keeper and house keeper को छोड़कर10वी या ITI17 ½ - 23 वर्ष
सोल्जर ट्रेड्समैन (Syce, mess keeper तथा house keeper)8वी17 ½ - 23 वर्ष
हवलदार एजुकेशन (आर्मी एजुकेशन कोर AEC)ग्रुप X - MA/MSc/MCA/BA/BSc/BCA/BSc(IT) के साथ BEd होना अनिवार्य है
ग्रुप Y - इसमे BEd होना अनिवार्य नही है।
20 - 25 वर्ष
जूनियर कमीशंड ऑफिसर (धार्मिक गुरु)किसी भी माध्यम से ग्रेजुएशन
जिस धर्म के गुरु के लिए आवेदन कर रहे हो उसके लिए जरूरी क्वालिफिकेशन होनी चाहिए।
27 - 34 वर्ष
जूनियर कमीशन ऑफिसर कैटरिंग (आर्मी सर्विस कोर ASC)12वी तथा किसी रेपुटेड यूनिवर्सिटी/ इंस्टीटूट से एक वर्ष का कुकरी होटल मैनेजमेंट तथा कैटरिंग टेक्नोलॉजी का डिप्लोमा होना आवश्यक है21 - 27 वर्ष
सर्वे ऑटोमेटेड कार्टोग्राफर (इंजीनयरस)12वी मैथ तथा साइंस मुख्य सब्जेक्ट के साथ पास की हो तथा BA /BSc मैथ सब्जेक्ट के साथ पास हो।20 - 25 वर्ष

इस प्रकार आप अपनी एजुकेशन एलीजिबिलिटी के अनुसार भारतीय सेना में JCO/ORs के लिए Join Indian army की वेबसाइट पर अप्लाई कर सकते है।

भारतीय सेना में रिक्रूटमेंट राज्यवार तथा जिले अनुसार होती है। प्रत्येक राज्य में Army Recruitment Office (ARO) होते है। प्रत्येक ARO की जिम्मेवारी उसके अंतर्गत आने वाले जिलों में आर्मी रैली का आयोजन करना होता है। इसलिए आप अपने जिले के ARO(Army Recruitment Office) की रैली के लिए ही आवेदन कर सकते है। आप Join Indian Army की वेबसाइट पर जाकर अपने जिले के ARO की army barti का शेड्यूल चेक कर सकते है। इंडियन आर्मी भर्ती में भाग लेने से पहले सबसे पहले आपको Join Indian Army की ऑफिसियल साइट पर जाकर Indian army rally online registration करना होता है और उसके बाद आप रजिस्ट्रेशन कॉपी के साथ निर्धारित रैली में भाग ले सकते है।

इंडियन आर्मी भर्ती का सम्पूर्ण तरीका /Procedure to Join Indian Army

यदि आपने अपनी एजुकेशन क्वालिफिकेशन के अनुसार इंडियन आर्मी भर्ती के लिए अप्लाई कर दिया है तो आपको आर्मी रैली की निर्धारित तिथि को रजिस्ट्रेशन कॉपी में दिए गए स्थान पर डाक्यूमेंट्स के साथ पहुचना होता है।
आर्मी रैली में लेकर जाने वाले महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट रजिस्ट्रेशन कॉपी में दिए होते है।


Important Documents to join Indian Army barti

  1. रेजिस्ट्रेशन कॉपी
  2. मैट्रिक तथा 12वी की मार्कशीट
  3. डोमिसाइल ( डोमिसाइल से ही यह प्रमाणित होता है कि आप जिस जिले की भर्ती देख रहे है आप उसके निवासी है या नही)
  4. रिलेशनशिप सर्टिफिकेट (यदि आप रिलेशनशिप भर्ती देख रहे है तो इसकी आवश्यकता पड़ती है
  5. चरित्र प्रमाण पत्र (Character Certificate)
  6. लेटेस्ट पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  7. जाति प्रमाण पत्र (caste certificate)
  8. अन्य डाक्यूमेंट्स जैसे NCC सर्टिफिकेट, स्पोर्ट्स सर्टिफिकेट (यदि आपके पास उपलब्ध हो)

इंडियन आर्मी भर्ती में सबसे महत्वपूर्ण टेस्ट फिजिकल टेस्ट होता है जो भर्ती के पहले दिन ही पूरा कर लिया जाता है।

इंडियन आर्मी भर्ती फिजिकल फिटनेस टेस्ट

इंडियन आर्मी फिजिकल फिटनेस टेस्ट में मुख्यत 4 टेस्ट होते है जो कि निम्नलिखित है।

  1. 1.6 किलोमीटर दौड़
  2. पुल्ल अप्स (बीम)
  3. बैलेंस टेस्ट
  4. 9 फ़ीट गड्डा जम्प

इन सभी इंडियन आर्मी फिजिकल टेस्ट में अलग अलग मार्क्स दिए जाते है। इंडियन आर्मी भर्ती में फिजिकल टेस्ट के कुल 100 मार्क्स होते है जिसमे से 1.6 किलोमीटर दौड में अधिकतम 60 मार्क्स होते है तथा पुल्ल अप्स (बीम) में अधिकतम मार्क्स 40 होते है। बैलेंस टेस्ट तथा 9 फ़ीट गड्ढा जम्प सिर्फ पास करने होते है।

1.6 किलोमीटर दौड़ की डिटेल्स नीचे टेबल में दी गयी है

GroupTimeMarks
Group I5 minutes 30 seconds60
Group II5 minutes 30 seconds - 5 minutes 45 seconds40
FailMore than 5 minutes 45 seconds0


इंडियन आर्मी भर्ती

डाक्यूमेंट्स चेक करने के बाद सबसे पहले 1.6 किलोमीटर रनिंग टेस्ट करवाया जाता है और जो इस फिजिकल फिटनेस टेस्ट में पास होता है उसे ही बचे हुए फिजिकल फिटनेस टेस्ट में भाग लेने की अनुमति होती है। 1.6 किलोमीटर रनिंग टेस्ट को पास करने के लिए कैंडिडेट्स को कम से कम 5 मिनट 45 सेकंड में यह दौड़ पूरी करनी होती है। जो कैंडिडेट्स रनिंग टेस्ट को पास करते है उन्हें बीम (Pull Ups) के पास ले जाया जाता है।

पुल अप(बीम) टेस्ट की डिटेल नीचे टेबल में दी गयी है।

No of Pull upsMarks
10 और उससे ज्यादा बीम40
933
827
721
616


indian army barti

बीम(Pull up) टेस्ट को पास करने के लिए कम से कम 6 बीम लगानी होती है। इस टेस्ट में अधिकतम मार्क्स 40 होते है जिसके लिए कैंडिडेट को 10 बीम लगानी होती है

इस इंडियन आर्मी भर्ती के फिजिकल फिटनेस टेस्ट के बाद बैलेंस टेस्ट के पास ले जाया जाता है जिसमे कैंडिडेट्स को लकड़ी की बनी आकृति पर बैलेंस बनाकर चलना होता है। यह टेस्ट बहुत साधारण होता है तथा लगभग सभी कैंडिडेट्स इसको पास कर सकते है। इस टेस्ट का कोई भी मार्क्स नही होता है। बैलेंस टेस्ट को केवल पास करना होता है।
इसके बाद 9 फ़ीट डिच टेस्ट आता है जिसमे कैंडिडेट्स को 9 फ़ीट लम्बा गड्डा जम्प करना होता है। यह टेस्ट भी साधारण ही होता है तथा कैंडिडेट्स प्रैक्टिस करके इंडियन आर्मी भर्ती के इस फिजिकल फिटनेस टेस्ट को आसानी से पास कर सकते है। इस टेस्ट का भी कोई मार्क्स नही होता है तथा इस टेस्ट को भी केवल पास करना होता है।


इंडियन आर्मी भर्ती में Physical fitness test के मार्क्स Indian army clerk, soldier technical, Store keeper तथा Nursing Assistant की मेरिट लिस्ट में नही जोड़े जाते उन्हें केवल फिजिकल फिटनेस टेस्ट को पास करना होता है और इनकी मेरिट लिस्ट केवल लिखित परीक्षा के आधार पर बनाई जाती है तथा Join Indian Army ki official वेबसाइट पर पोस्ट कर दी जाती है।

इन सभी टेस्ट के अलावा इंडियन आर्मी भर्ती में शारीरिक माप (Physical Measurement) किया जाता है जिसमे कैंडिडेट्स की हाइट तथा छाती (Chest) का मापदंड किया जाता है। भारतीय सेना में अलग अलग क्षेत्र तथा अलग अलग ट्रेड के जवानों के लिए फिजिकल मेज़रमेंट में छूट दी जाती है जैसे कि पहाड़ी क्षेत्र के कैंडिडेट्स को हाइट में छूट मिलती है इसी प्रकार store keeper technical (SKT) तथा indian army clerk को height में छूट मिलती है। सभी ट्रेड की हाइट, चेस्ट तथा वेट की डिटेल्स नीचे टेबल में दी गयी है।

Physical measurements of Soldier General Duty (GD) to Join Indian Army Rally

RegionHeightChestWeight
जम्मू कश्मीर , हिमाचल प्रदेश, पहाड़ी पंजाब एरिया163 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर48 किलोग्राम
सिक्किम, मणिपुर, मेघालय, अरूणाचल प्रदेश, असम, मिज़ोरम, त्रिपुरा तथा पश्चिम बंगाल का पहाड़ी एरिया160 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर48 किलोग्राम
पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, बंगाल तथा ओड़ीसा169 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, दादर नगर हवेली, दमन दीव168 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, चंडीगढ़, पश्चमी उत्तर प्रदेश170 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, गोआ तथा पांडुचेरी166 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम

Physical measurements of Soldier Technical and Nursing Assistant in Indian Army Rally

RegionHeightChestWeight
जम्मू कश्मीर , हिमाचल प्रदेश, पहाड़ी पंजाब एरिया163 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर48 किलोग्राम
सिक्किम, मणिपुर, मेघालय, अरूणाचल प्रदेश, असम, मिज़ोरम, त्रिपुरा तथा पश्चिम बंगाल का पहाड़ी एरिया157 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर48 किलोग्राम
पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, बंगाल तथा ओड़ीसा169 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, दादर नगर हवेली, दमन दीव167 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, चंडीगढ़, पश्चमी उत्तर प्रदेश170 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, गोआ तथा पांडुचेरी165 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम

Indian Army Clerk Height

RegionHeightChestWeight
जम्मू कश्मीर , हिमाचल प्रदेश, पहाड़ी पंजाब एरिया162 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर48 किलोग्राम
सिक्किम, मणिपुर, मेघालय, अरूणाचल प्रदेश, असम, मिज़ोरम, त्रिपुरा तथा पश्चिम बंगाल का पहाड़ी एरिया157 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर48 किलोग्राम
पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, बंगाल तथा ओड़ीसा162 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, दादर नगर हवेली, दमन दीव162 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, चंडीगढ़, पश्चमी उत्तर प्रदेश162 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम
आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, गोआ तथा पांडुचेरी162 सेंटीमीटर77 सेंटीमीटर50 किलोग्राम

एजुकेशनल क्राइटेरिया, फिजिकल क्राइटेरिया के बाद आता है मेडिकल फिटनेस। फिजिकल फिटनेस टेस्ट तथा शारीरिक माप के बाद जो कैंडिडेट्स पास होते है केवल उनका Army Recruitment Office (ARO) में मेडिकल ऑफिसर के द्वारा मेडिकल किया जाता है। आर्मी भर्ती मेडिकल के मुख्य पॉइंट नीचे दिए गए है।

  1. शरीर पर कोई भी परमानेंट टैटू न हो।
  2. कैंडिडेट की ऑय साइट 6/6 होनी चाहिए तथा कलर विज़न CP III होनी चाहिए (कैंडिडेट सफेद, हरा, लाल रंग को आसानी से पहचान लेने में सक्षम होना चाहिए)
  3. कैंडिडेट किसी अन्य बीमारी जैसे हाइड्रोसील, बवासीर, तथा हड्डि की बीमारी इत्यादि नही होनी चाहिए।
  4. कैंडिडेट को कान से सम्बंधित कोई बीमारी नही होनी चाहिए।
  5. चेस्ट अच्छे से विकसित होनी चाहिए तथा चेस्ट का फुलाव कम से कम 5 सेंटीमीटर होना चाहिए
  6. इसके अतिरिक्त भी कैंडिडेट तंदरुस्त तथा स्वस्थ होना चाहिए और किसी भी बड़ी शारीरिक बीमारी से मुक्त होना चाहिए।




इंडियन आर्मी में भर्ती के समय मेडिकल अफसर के द्वारा बारीकी से मेडिकल टेस्ट किया जाता है यदि कोई कैंडिडेट आर्मी रिक्रूटमेंट आफिस(ARO) में मेडिकल टेस्ट में अनफिट पाया जाता है तो मेडिकल ऑफिसर उसको अनफिट कर देता है परंतु कैंडिडेट को रिव्यु (REMEDICAL) कराने का मौका दिया जाता है।

रेमेडिक्ल के लिए उसे ARO में अप्लाई करना होता है और निर्धारित तारीख को बताए गए मिलिट्री हॉस्पिटल में रिपोर्ट करना होता है। मिलिट्री हॉस्पिटल में स्पेशलिस्ट के द्वारा उस बीमारी का दोबारा जांच की जाती है जिसके लिए कैंडिडेट को आर्मी रिक्रूटमेंट आफिस में मेडिकल ऑफिसर द्वारा अनफिट किया गया था। रिमेडिक्ल के बाद स्पेशलिस्ट कैंडिडेट को फिट या अनफिट कर देता है।
इस प्रकार से कैंडिडेट इंडियन आर्मी जॉइन करने के लिए फिजिकल फिटनेस टेस्ट, फिजिकल मेज़रमेंट तथा मेडिकल टेस्ट को पास करता है। जो कैंडिडेट इन तीनो टेस्ट को पास कर लेते है उन्हें Army Recruitment office द्वारा लिखित परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड जारी कर दिए जाते है। फिजिकल टेस्ट तथा लिखित परीक्षा के बीच लगभग 1 से 2 महीने का समय रहता है जिसमे कैंडिडेट को इंडियन आर्मी जॉइन करने के लिए भरपूर मेहनत करनी चाहिए।
join indian army written test

अब हम बात करेंगे लिखित परीक्षा की। लिखित परीक्षा भी फिजिकल टेस्ट के बराबर महत्वपूर्ण होती है क्योकि indian army barti की लिखित परीक्षा के भी फिजिकल टेस्ट के समान 100 मार्क्स होते है इसलिए फाइनल मेरिट में स्थान पाने के लिए लिखित परीक्षा में अच्छा परफॉर्म करना बहुत जरूरी है। Indian army clerk, store keeper, soldier technical तथा Nursing Assistant की मेरिट लिस्ट सिर्फ लिखित परीक्षा के आधार पर तैयार की जाती है इसलिए उनको इंडियन आर्मी जॉइन करने के लिए लिखित परीक्षा में अच्छा परफॉर्म करना बहुत जरूरी है।



Written Test for soldier General Duty (GD)

सोल्जर जनरल ड्यूटी का रिटेन एग्जाम 100 मार्क्स का होता है जिसके लिए कैंडिडेट्स को 60 मिनट्स दिए जाते है। इस पेपर में पास होने के लिए 32 मार्क्स चाहिए। पेपर मुख्यत 3 सब्जेक्ट्स का होता है जिसमे मैथ, सामान्य विज्ञान तथा सामान्य ज्ञान के पर्शन पूछे जाते है। एग्जाम का स्तर मैट्रिक लेवल का होता है। लगातार अभ्यास करके इस पेपर में 70 आए 80 मार्क्स हासिल किए जा सकते है।

Written Test for soldier Technical

Soldier Technical का एग्जाम 200 मार्क्स का होता है। यह सोल्जर जनरल ड्यूटी के एग्जाम के मुकाबले कठिन होता है। सोल्जर टेक्निकल की मेरिट लिस्ट इसी एग्जाम के आधार पर बनाई जाती है तथा उसमें फिजिकल फिटनेस के मार्क्स नही जोड़े जाते। इस एग्जाम में प्रशन जनरल नॉलेज, फिजिक्स, केमिस्ट्री तथा मैथ से पूछे जाते है। इस एग्जाम के प्रशनो का स्तर 12वी लेवल का होता है तथा सोल्जर टेक्निकल एग्जाम के लिए 2 घण्टे दिए जाते है जिसमे एक घण्टा जनरल ड्यूटी एग्जाम के लिए तथा एक घण्टा टेक्निकल एग्जाम के लिए दिया जाता है। इस एग्जाम में पास होने के लिए 80 मार्क्स की आवश्यकता होती है।

Written Test for soldier Nursing Assistant

सोल्जर नर्सिंग असिस्टेंट एग्जाम भी सोल्जर टेक्निकल की तरह 200 मार्क्स का होता है जिसमें एक पेपर सोल्जर जनरल ड्यूटी का 100 मार्क्स का होता है तथा दूसरा एग्जाम टेक्निकल सब्जेक्ट्स का होता है है जिसमे प्रशन फिजिक्स, केमिस्ट्री तथा बायोलॉजी से पूछे जाते है। प्रत्येक पेपर के लिए कैंडिडेट को 60 मिनट्स दिए जाते है तथा पास होने के लिए 80 मार्क्स की आवश्यकता होती है। Soldier Nursing Assistant Written Exam में प्रशन 12वी के स्तर के होते है इसलिए इस एग्जाम की तैयारी के लिए अच्छी मेहनत करने की आवश्यकता होती है। सोल्जर नर्सिंग असिस्टेंट की मेरिट लिस्ट में भी फिजिकल फिटनेस टेस्ट के मार्क्स नही जोड़े जाते है तथा मेरिट केवल लिखित परीक्षा के आधार पर बनाई जाती है। इंडियन आर्मी रैली की मेरिट लिस्ट Join Indian Army की official वेबसाइट पर पोस्ट कर दी जाती है Indian army rally Result check करने के लिए आप Join Indian Army की वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते है

Written Test for soldier clerk and Storekeeper Technical (SKT)

सोल्जर क्लर्क तथा स्टोरकीपर के भी दो एग्जाम होते है जो कि कुल 200 मार्क्स के होते है परंतु इहक पैटर्न तथा सब्जेक्ट सोल्जर टेक्निकल तथा नर्सिंग असिस्टेंट से अलग होते है।

Indian army Clerk and SKT Written test 1

SubjectsMarksType of Question
General Science and General knowledge40Objective (Multiple choice Questions)
Math and computer science60Objective (Multiple choice Questions)




Indian army Clerk and SKT Written test 2

SubjectsMarksType of Question
English grammer, comprehension, essay writing, letter writing and paragraph writing200Subjective type questions

प्रत्येक एग्जाम के लिए 60 मिनट्स दिए जाते है तथा प्रत्येक एग्जाम में पास होने के लिए कम से कम 32 मार्क्स आवश्यक तथा दोनों एग्जाम में पास होने के लिए कुल 80 मार्क्स आवश्यक है। क्लर्क तथा स्टोरकीपर की मेरिट लिस्ट में भी फिजिकल फिटनेस टेस्ट के मार्क्स नही जोड़े जाते है।

इस प्रकार लिखित एग्जाम अलग अलग ट्रेड के लिए अलग है। लिखित एग्जाम हर महीने के अंतिम इतवार को लिया जाता है(मार्च, जून, सिंतबर तथा दिसंबर में नही लिया जाता है)
सोल्जर जनरल ड्यूटी तथा ट्रेडमैन के लिए फिजिकल फिटनेस तथा लिखित परीक्षा के आधार पर मेरिट लिस्ट बनाकर रिजल्ट बता दिया जाता है तथा सोल्जर टेक्निकल, नर्सिंग असिस्टेंट, क्लर्क तथा स्टोरकीपर की मेरिट लिस्ट केवल लिखित परीक्षा के आधार पर तयार की जाती है। मेरिट लिस्ट में सफल कैंडिडेट को उनके मार्क्स तथा ट्रेड के आधार पर अलग अलग आर्म्स के ट्रेनिंग सेन्टर में भेज दिया जाता है।

Important Points

    1. कैंडिडेट्स जिनके पास National Cadet Corps (NCC) “C” सर्टिफिकेट है उन्हें लिखित एग्जाम देने की आवश्यकता नही पड़ती परन्तु उन्हें लिखित परीक्षा को छोड़कर सभी फॉर्मेलिटी पूरी करनी होती है।
    2. स्पोर्ट्समैन जिन्होंने भारत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रिप्रेजेंट किया है उन्हें लिखित परीक्षा में 20 अतरिक्त (Bonus) मार्क्स दिए जाते है।
    3. खिलाड़ी जिन्होंने अपने राज्य को राष्ट्रीय स्तर पर रिप्रेजेंट किया है उन्हें इंडियन आर्मी सोल्जर की लिखित परीक्षा में 15 बोनस मार्क्स दिए जाते है।
    4. स्पोर्ट्समैन जिन्होंने अपने राज्यस्तर पर अपने जिले को रिप्रेजेंट किया है उन्हें आर्मी रिक्रूटमेंट की लिखित परीक्षा में 10 बोनस मार्क्स दिए जाते है।




  1. खिलाड़ी जिन्होंने यूनिवर्सिटी या रिजियन की टीम को जिले स्तर पर रिप्रेजेंट किया हो ऐसे खिलाड़ियों को इंडियन आर्मी रिक्रूटमेंट लिखित परीक्षा में 5 बोनस मार्क्स दिए जाते है।
  2. सर्विसमैन या एक्ससर्विसमैन के एक डिपेंडेंट को लिखित परीक्षा में 20 बोनस मार्क्स दिए जाते है इसके लिए उन्हें रिलेशन सर्टिफिकेट की कॉपी जमा करनी होती है।

इस प्रकार आप इंडियन आर्मी रिक्रूटमेंट में अप्लाई करके विश्व की सर्वश्रेष्ट आर्मी का हिस्सा बन सकते है। यदि इंडियन आर्मी रिक्रूटमेंट में आपको कोई भी डाउट हो तो आप कमेंट करके पूछ सकते है और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे ताकि भारतीय सेना भर्ती की तयारी कर रहे जवानों को पूर्ण जानकारी मिल सके।

जय हिंद जय भारत

Share with friends
  • 404
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    404
    Shares