SIP से 2019 में डिफेंस पर्सन अपना भविष्य उज्जवल कैसे बना सकते है।

SIP से 2019 में डिफेंस पर्सन अपना भविष्य उज्जवल कैसे बना सकते है।

December 30, 2018 0 By Admin

नया साल कुछ ही दिन दूर है और में सबसे पहले आपको नए साल के लिए शुभकामनाएं देना चाहूंगा। नए वर्ष में प्रत्येक व्यक्ति अपने व्यक्तित्व को बेहतरीन बनाने के लिए अपने आप से कुछ वादे करता है। नए वर्ष में कुछ लोग अपनी फिजिकल फिटनेस के लिए वर्कआउट शुरू करेंगे, कुछ व्यक्ति अपनी बुरी आदतों को छोड़ना चाहेंगे, कुछ व्यक्ति अपने रिस्तो को सुधारने में फोकस करेंगे तथा कुछ व्यक्ति नए वर्ष में अच्छी आदतें अपनाएंगे। इसी तरह से हम इस पोस्ट में आपको सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (Systematic Investment Plan) SIP के बारे में पूरी डिटेल में बताएंगे जिससे आप अपना भविष्य सुरक्षित कर सकते है। सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान को SIP भी कहते है तथा इस पोस्ट में हम डिफेंस पर्सन तथा पैरामिलिटरी फ़ोर्स के बारे में बात करेंगे कि कैसे SIP उनके लिए फायदेमंद हो सकती है।

Systematic Investment Plan

सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) में इन्वेस्टर प्रत्येक महीने एक फिक्स अमाउंट इक्विटी म्यूच्यूअल फण्ड (mutual Fund) में निवेश करता है म्यूच्यूअल फण्ड का चयन भी इन्वेस्टर स्वयं करता है तथा वह जब चाहे अपने पैसे निकाल सकता है। इन्वेस्टर SIP को कभी भी बंद कर सकता है तथा कितने भी लंबे समय तक जारी रख सकता है। SIP में Fixed Deposit की तरह कोई कम से कम समय सीमा नही होती है परन्तु SIP कम से कम एक वर्ष तक रखनी होती है।



अब बात करते है कि SIP डिफेंस पर्सन तथा पैरामिलिटरी के लिए कैसे फायदेमंद हो सकती है।

जैसा कि हम सब जानते है कि डिफेंस पर्सन को हर महीने सैलरी मिलती है जिसमे से AGIF, AFPP की इन्सटॉलमेंट भी जाती है इसके अलावा कुछ डिफेंस पर्सन की PLI की क़िस्त या होम लोन ओर पर्सनल लोन की क़िस्त भी जाती है परन्तु इसके बाद भी सैलरी का एक हिस्सा बच जाता है जिसे डिफेंस पर्सन इन्वेस्ट करने चाहता है ताकि उसे एक फिक्स तथा सिक्योर रिटर्न्स मिल सके तथा SIP एक वो इन्वेस्टमेंट प्लान है जो उसकी इस शर्त को पूरा करती है। सबसे पहले आपको Systematic Investment plan के फायदे बताएंगे ताकि आपके डाउट दूर हो सके।

Benefit Of Systematic Investment Plan

  1. SIP 500 रुपये प्रति महीने से शुरू की जा सकती है यानी आपको बहुत ज्यादा अमाउंट इन्वेस्ट करने की आवश्यकता नही होती है।
  2. सिस्टेमेटिक इन्वेस्टमेंट प्लान पूरी तरह से सिक्योर होती है इसमें इन्वेस्टर किसी बैंक या फण्ड हाउस के जरिये म्यूच्यूअल फण्ड खरीदता है इसलिये इसमें कंपनी के भागने या डूबने का डर नही होता है जैसे कि chain marketing या money circulation company में होता है।
  3. SIP में Fixed Deposit (FD) की तरह इन्वेस्टमेंट की फिक्स टर्म नही होती है तथा न ही फिक्स रिटर्न्स होता है। SIP में इन्वेस्ट किये गए पैसे को इन्वेस्टर जरूरत पड़ने पर निकाल सकते है। SIP को आप इमरजेंसी फण्ड की तरह भी इस्तेमाल कर सकते है जिसे आप जरूरत पड़ने पर निकाल सकते है।



  • SIP में इन्वेस्टर को शेयर मार्किट के उतार या चढ़ाव से ज्यादा फर्क नही पड़ता है क्योंकि म्यूच्यूअल फण्ड इन्वेस्टर द्वारा हर महीने खरीदे जाते है इसलिए उसके द्वारा खरीदे गए म्यूच्यूअल फण्ड का प्राइस एवरेज हो जाता है और शेयर मार्केट बहुत ज्यादा गिरने तथा बढ़ने का फर्क उसके इन्वेस्टमेंट पर नही पड़ता है ओर उसके इन्वेस्टमेंट में रिस्क कम हो जाता है
  • SIP से इन्वेस्टर को Power of compunding का पता चलता है यानी इसमें आपका इन्वेस्टमेंट बहुत जल्दी बढ़ता है। SIP को जितनी जल्दी शुरू किया जाए उतना अधिक फायदा होता है जो कि हम आगे बात करेंगे।
  • SIP शुरू करना, मॉनिटर करना बहुत आसान है। आपको केवल शुरू में SIP प्लान चुनना होता है तथा उसके बाद हर महीने आपके बैंक एकाउंट से SIP के लिए पैसे अपने आप इन्वेस्ट कर दिए जाते है इसलिए आपको बार बार पैसे जमा करने की आवश्यकता नही पड़ती न ही शेयर मार्केट को मॉनिटर करना होता है।
  • Systematic investment plan से इन्वेस्टर में रेगुलर इन्वेस्ट करने का डिसिप्लिन आता है जो कि वेल्थ बढ़ाने के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होता है।
  • सिप (SIP) में शेयर मार्केटिंग इक्विटी की बजाय रिस्क बहुत कम होता है क्योंकि SIP प्लान में बहुत सारे इक्विटी फंड्स को मिलाकर म्यूच्यूअल फण्ड चुना जाता है और इन इक्विटी फण्ड में यदि कोई फण्ड की वैल्यू कम होती है तो दूसरे फण्ड की वैल्यू बढ़ती है इसलिए इन्वेस्टमेंट में रिस्क कम हो जाता है।
  • SIP में जितने ज्यादा लंबे समय तक इन्वेस्ट किया जाए उतना अधिक फायदा होता है। इसलिए हमेशा ज्यादा लंबे समय के लिए इन्वेस्टमेंट करना चाहिए।
  • Systematic Investment Plan में इन्वेस्टर को सेक्शन 80C के अंतर्गत टैक्स में भी छूट मिलती है यानी आपके द्वारा इन्वेस्ट किया गया पैसा तथा रिटर्न्स पर टैक्स नही लगता है इसके लिए आपको प्रत्येक SIP प्लान की डिटेल्स ध्यानपूर्वक समझनी चाहिए।

अब बात करते है कि SIP कैसे काम करता है चलिए एक उदाहरण के तौर पर समझते है।

मान कर चलते है कि जब भी कोई डिफेंस पर्सन, आर्मी, नेवी, एयरफोर्स या पैरामिलिटरी जॉइन करता है तथा नॉकरी के शुरू से ही प्रति महीना केवल 3000 रुपये की SIP शुरू करता है और 20 साल तक उसे जारी रखता है। SIP 10 वर्ष से 20 वर्ष तक जारी रखने में एवरेज 15% का रिटर्न्स मान कर चलते है तथा SIP कैलकुलेटर में कैलकुलेट करके देखते है। ( कुछ SIP प्लान 5 से 15 वर्ष में 23% से 27% तक रिटर्न्स देती है परन्तु हम कम से कम मान कर चलते है)

ऊपर दी गयी SIP प्लान में यदि हम प्रति महीने 3000 रुपये 20 वर्ष तक लगातार इन्वेस्ट करते है तो हम केवल 7,20,000 रुपये इन्वेस्ट करते है तथा 20 वर्ष बाद इन्वेस्टर को लगभग 45 लाख रुपये मिल रहे है। ऊपर दी गयी कैलकुलेशन में यदि हम देखे तो 10 वर्ष में 3,60,000 रुपये इन्वेस्ट हो रहा है तथा रिटर्न्स में 8,35,000 रुपये मिल रहा है ओर अगले 10 वर्ष में वही पैसा 45,47,864 रुपये हो रहा है यही है SIP की पावर ऑफ कंपाउंडिंग। जितने लंबे समय तक इन्वेस्ट करेंगे रिटर्न्स उतना ही अधिक होगा।
नीचे हमने SIP Calculator दिया है जिसमे आप SIP की इन्वेस्टमेंट की क़िस्त, रिटर्न्स तथा इन्वेस्टमेंट टाइम को अपने बजट अनुसार तथा समय अनुसार बदल कर रिटर्न्स निकाल सकते है तथा अपनी SIP plan कर सकते है।

अब आप कहेंगे कि रिटर्न्स यदि 15% से कम हुआ तो रिटर्न्स बहुत कम होगा। आपकी जानकारी के लिए बतादूँ आरम्भ में SIP में आपका इन्वेस्ट किया हुआ पैसा कम भी हो सकता है क्योंकि यह शेयर मार्केट के ऊपर निर्भर करता है। इसलिए SIP शुरू करने से पहले यह प्लान करले कि आप कम से कम 5 वर्ष तक इन्वेस्ट करेंगे और आरम्भ में इन्वेस्ट की गई रकम कुछ % कम होने पर निराश नही होंगे। वैसे भी आरम्भ में sip में इन्वेस्ट की गई रकम बहुत कम होती है तथा वह समय के साथ बढ़ना शुरू होती है और long term में इन्वेस्टर को फायदा होता है। अब आपको इस वर्ष के टॉप 10 SIP प्लान के रिजल्ट दिखाते है जिसमे आपको पता चल जाएगा कि SIP में कितना रिटर्न्स मिलता है।

Top 10 SIP plans

इस वर्ष की top 10 SIP Plans में आप देख सकते है कि एक प्लान को छोड़कर, 9 SIP प्लान्स में 15% से अधिक रिटर्न्स मिल रहा है। ऊपर दी गयी फ़ोटो में एक ध्यान देने वाली बात यह है कि 3 वर्ष की बजाय 5 वर्ष तक इन्वेस्ट करने में अधिक रिटर्न्स मिल रहा है और 5 वर्ष से ओर अधिक लंबे समय तक इन्वेस्ट करने में ओर अधिक रिटर्न्स मिलने के चांस बढ़ जाते है। (ऊपर दी गयी प्लान को आप सेंसेक्स तथा निफ़्टी की ऑफिसियल वेबसाइट पर भी चेक कर सकते है) हम डिफेंस पर्सन को एक सलाह देंगे कि किसी भी SIP प्लान में इन्वेस्ट करने से पहले अच्छे से रिसर्च करे तथा उसके बाद ही सही प्लान चुने।

Also read

डिफेंस पर्सन के लिए 5 बेस्ट क्रेडिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड के फायदे तथा नुकसान के साथ

अब बात करते है कि डिफेंस पर्सन को क्यों SIP में इन्वेस्ट करना चाहिए?

डिफेंस पर्सन को पेंशन जाते समय या सर्विस के 15 से 20 वर्ष बाद एक बड़े अमाउंट की आवश्यकता होती है अपना घर बनाने के लिए या बच्चों की एजुकेशन के लिए। SIP प्लान maturity के बाद उसकी इस जरूरत को पूरा कर सकती है।

डिफेंस पर्सन हर महीने सेविंग के लिए AFPP फण्ड में पैसे जमा करता है ताकि वह सेविंग को बाद में इस्तेमाल कर सके परन्तु जरूरत पड़ने पर वह AFPP फण्ड को कुछ समय बाद ही निकाल लेता है तथा वह रेगुलर सेविंग नही कर पाता है। इसलिए डिफेंस पर्सन को सेविंग के लिए सिर्फ AFPP फण्ड पर निर्भर नही रहना चाहिए और AFPP फण्ड का कुछ हिस्सा SIP plan में इन्वेस्ट करके अपनी सेविंग को ओर बढ़ाना चाहिए। दूसरी तरफ AFPP fund में इंटरेस्ट फिक्स होता है जो कि 8% से 9% के बीच मे रहता है तथा इंटरेस्ट वर्ष में जोड़ा जाता है इसके विपरीत SIP में रिटर्न्स महीने के आधार पर है तथा रिटर्न्स भी long term में ज्यादा मिलता है।

कोई भी सर्विंग डिफेंस पर्सन 500 से 5000 रुपये तक आसानी से निकालकर अपने भविष्य के लिए सेव कर सकता है जो कि उसे भविष्य में एक बड़े अमाउंट के रूप में मिलती है। SIP बच्चे की एजुकेशन के लिए भी शुरू किया जा सकता है।



बहुत से डिफेंस पर्सन अधिक जानकारी न होने के कारण तथा अधिक रिटर्न्स होने के कारण multi level marketing (MLM) या मनी सर्कुलेशन स्कीम में इन्वेस्ट कर देते है जिससे शार्ट टर्म गेन तो होता है परन्तु वह बाद में नुकसानदायक साबित होता है जब कंपनी फ्रॉड निकलती है। इसके विपरीत SIP 100% सिक्योर होती है तथा बैंक के जरिये आप इनमें पैसे लगाते है इसलिए ये बिल्कुल कानूनी रूप से सही तथा सुरक्षित इन्वेस्टमेंट होता है। आपकी जानकारी के लिए बतादे कि SIP के जरिये आप गवर्मेंट बांड्स में भी इन्वेस्ट कर सकते है।

Also read

डिफेंस सैलरी पैकेज एकाउंट खोलने के 10 फायदे

अब हम बताएंगे कुछ फैक्ट्स तथा टिप्स SIP में इन्वेस्ट करने से पहले।

Tips to Invest in SIP

  1. SIP जितनी कम सर्विस या कम उम्र में शुरू की जाए उतना अच्छा रिटर्न्स मिलेगा क्योकि कम सर्विस में शुरू करने से सैलरीड पर्सन लंबे समय के लिए इन्वेस्ट कर सकता है और जितने अधिक लंबे समय के लिए इन्वेस्ट करेंगे, रिटर्न्स उतना अधिक मिलेगा।
  2. यदि आप पहली बार SIP शुरू करने जा रहे है तो कम अमाउंट से शुरू करे तथा सिप चुनने से पहले अच्छे से रिसर्च करले उसके बाद ही सिप में इन्वेस्ट करे।
  3. कभी भी एक SIP में ज्यादा पैसा नही लगाना चाहिए। यदि आप प्रति महीना 5000 रुपये Systematic Investment Plan में इन्वेस्ट करने चाहते है तो कम से कम 2000 रुपये की दो SIP तथा 1000 रुपये प्रति महीना की एक SIP शुरू कीजिए। ऐसा करने से यदि एक SIP कम रिटर्न्स देती है तो दूसरी दो SIP अधिक रिटर्न्स देंगी या इसके विपरीत होगा। इससे आपके इन्वेस्टमेंट में रिस्क फैक्टर कम हो जाता है।
  4. यदि आप दो या तीन SIP शुरू कर रहे है तो तीनों सिप रिस्क फैक्टर के अनुसार चुने। एक हाई रिस्क SIP, एक मध्यम रिस्क सिप तथा एक डेब्ट फंड्स या गवर्मेन्ट बांड्स SIP चुने। ऐसा करने से आपके इन्वेस्टमेंट में रिस्क कम तथा ग्रोथ के चांस ज्यादा हो जाते है तथा आपके इन्वेस्टमेंट सुरक्षित रहता है।
  5. SIP के पहले कुछ महीनों में ग्रोथ न होने पर बिल्कुल भी नही घबराना चाहिए क्योकि आपने SIP, long term investment के purpose से शुरू की है। SIP के शुरुआती कुछ महीनों में रिटर्न्स नेगेटिव भी हो सकते है परन्तु घबराए नही तथा सयम से काम ले।
  6. SIP को जीतने लंबे समय तक कंटिन्यू रख सकते है उतने समय तक जारी रखना चाहिए उससे आपको रिटर्न्स मिलने के चांस बढ़ जाते है।




दोस्तो सिप के फायदे तथा सिप शुरू करने के लिए टिप्स तो आपको पता ही चल गए है। यदि आप SIP शुरू करने जा रहे है तो आपको इसके नुकसान बताना भी अत्यंत आवश्यक है ताकि आपको SIP की पूरी सच्चाई मालूम हो।

Systematic Investment Plan उन लोगो के लिए बिल्कुल भी रिकमेंड नही किया जाता जो अपने पैसे बहुत कम समय (कुछ महीनों) के लिए इन्वेस्ट करना चाहते है मतलब यदि आप बहुत कम समय के लिए पैसे को इन्वेस्ट करने चाहते है तो आपको SIP में इन्वेस्ट नही करना है।

जैसा कि हमने पहले बताया कि SIP के शुरुआत में ग्रोथ नेगेटिव भी हो सकती है इसलिए SIP उन लोगो के लिए नही है जो 1% भी रिस्क नही लेना चाहते है परन्तु यदि आप लंबे समय तक इन्वेस्ट करने चाहते है तो आपको कोई नुकसान नही होगा।

SIP को वैसे तो कभी भी बंद किया जा सकता है परन्तु कुछ बैंक्स SIP की कम से कम अवधि 1 से 3 वर्ष रखते है यदि आप सिप प्लान में दी गयी अवधि से पहले बंद करते है तो आप से कुछ चार्जेज लिए जा सकते है ( मिनिमम अवधि रखने का एक कारण यह भी है कि इन्वेस्टर शुरुआत में नेगेटिव ग्रोथ को लेकर भयभीत न हो और सिप को लगातार जारी रखे ताकि उसको लांग टर्म में फायदा हो सके)


सभी SIP प्लान में टैक्स में छूट नही मिलती है तथा रूल्स समय समय पर बदलते रहते है इसलिए सिप सेलेक्ट करते समय दस्तावेज अच्छे से पढ़ले तथा समझ ले ताकि आपको बाद में कोई परेशानी न हो।

यह थी SIP के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी जो 2019 में आपको एक अच्छी शुरुआत तथा उज्जवल भविष्य दे सकती है। इस पोस्ट की तरह सन 2019 में भी हमारी डिफेंस तथा पैरामिलिट्री फ़ोर्स पर्सनल के लिए महत्वपूर्ण जानकारी वाली पोस्ट आती रहेंगी यदि आप सभी पोस्ट अपने ईमेल एड्रेस पर प्राप्त करना चाहते है तो अपना ईमेल एड्रेस नीचे बॉक्स में डालकर सब्सक्राइब का बटन अवश्य दबाए।यदि आपको पोस्ट में बताई गई जानकारी के बारे में कोई भी ओर जानकारी चाहिए या कोई सुजाव हो तो नीचे कमेंट करके अवश्य बताये। साथ मे यह भी कमेंट करके अवश्य बताये की आपको यह पोस्ट कैसी लगी क्योकि आपके कमेंट तथा शेयर करने से हमे ओर ज्यादा मोटिवेशन तथा उत्साह मिलता है डिफेंस पर्सन को ओर अधिक जानकारी पहुचने का। फेसबुक पर शेयर करने से हमे लगता है कि हमारी 10 दिन की मेहनत खराब नही गयी और हमारे फौजी भाइयो के काम आ रही है इसलिए फेसबुक तथा व्हाट्सएप्प पर अवश्य शेयर कीजिये।

जय हिंद जय भारत

Share with friends
  • 45
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    45
    Shares