Community

You need to log in to create posts and topics.

Indian army physical test details btaye

इंडियन आर्मी फिजिकल टेस्ट में कौंन कौंन से टेस्ट होते है तथा डिटेल्स में इंडियन आर्मी फिजिकल टेस्ट के बारे में बताये।

इंडियन आर्मी रैली के लिए अप्लाई करने के पश्चात कैंडिडेट को रजिस्टर्ड ईमेल एड्रेस पर एडमिट कार्ड भेज दिया जाता है जिसमे आर्मी फिजिकल टेस्ट की तारीख दी हुई होती है। दी हुई तारीख पर कैंडिडेट को आर्मी फिजिकल टेस्ट के लिए दिए हुए स्थान पर पहुचना होता है।

Army Physical test details

Indian Army Physical test में सबसे पहले 1600 मीटर की रनिंग होती है जिसमे दो ग्रुप होते है। 1600 मीटर रनिंग के लिए कुल 60 मार्क्स मिलते है। जो कैंडिडेट 1600 मीटर रनिंग को 5 मिनट 30 सेकंड से पहले पूरा करता है उसे 60 मार्क्स दिए जाते है।

5 मिनट 30 सेकण्ड्स से 5 मिनट 45 सेकंड के बीच 1600 मीटर रनिंग को कम्पलीट करने वाले कैंडिडेट को 60 में से 40 मार्क्स मिलते है। 5 मिनट 45 सेकंड के बाद आने वाले कैंडिडेट फैल हो जाते है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सोल्जर नर्सिंग असिस्टेंट, सोल्जर टेक्निकल तथा सोल्जर क्लर्क में फिजिकल टेस्ट के मार्क्स फाइनल मेरिट लिस्ट में नही जोड़े जाते है।

1600 मीटर रनिंग पास करने वाले कैंडिडेट pull up (बीम) टेस्ट के लिए जाते है। बीम टेस्ट के कुल 40 मार्क्स होते है जो कि 10 बीम लगाने वाले कैंडिडेट को मिलते है। बीम टेस्ट में कम से कम 6 बीम लगानी होती है। 6 से कम बीम लगाने वाला कैंडिडेट भी फैल हो जाता है।

इन दोनों टेस्ट को मिलाकर Indian army physical test के कुल 100 मार्क्स हो जाते है। इन दोनों टेस्ट के अलावा zigzag walk तथा 9 फ़ीट गड्डा टेस्ट होते है जिसे कैंडिडेट को केवल पास करना होता है। इन दोनों टेस्ट के कोई नंबर नही होते है।

यह थी indian army physical test की पूरी detail

यह जानकारी दोस्तों साथ शेयर करे