जम्मू और कश्मीर के राजौरी में पाकिस्तान द्वारा गोलीबारी में शाहिद हुए एक मेजर ओर तीन सैनिक




जम्मू के राजौरी जिले के केरी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर भारतीय चौकियों पर पाकिस्तान द्वारा असीमित गोलीबारी से शनिवार को एक मेजर ओर  तीन सैनिक शहीद हो गए थे और एक अन्य घायल हो गया था।
रक्षा प्रवक्ता कर्नल एन एन जोशी ने बताया कि गोलीबारी करके पड़ोसी देश  पाकिस्तान द्वारा युद्धविराम का उल्लंघन किया गया है।

उन्होंने पीड़ितों की पहचान मेजर मोहरकर प्रफुल्ला अंबादास, लांस नायक गुरमेल सिंह और कुलदीप सिंह और सिपाही परगट सिंह के रूप में की।

इस हफ्ते की शुरुआत में गृह राज्यमंत्री हंसराज अहिर ने लोकसभा को बताया कि इस साल जम्मू एवं कश्मीर में नियंत्रण रेखा (आईओबी) और अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर 881 युद्धविराम का उल्लंघन हुआ था, जिसमें सैनिकों सहित कम से कम 30 लोग मारे गए थे।

राजौरी की यात्रा पर मुख्यमंत्री मेहबूबा मुफ्ती ने चार सैनिको  की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया।अधिकारियों ने बताया कि 32 वर्षीय मेजर अंबदास, महाराष्ट्र के भंडारा जिले के थे। लांस नायक गुरमेल सिंह (34) पंजाब के अमृतसर से हैं और उनकी पत्नी कुलजीत कौर और एक बेटी है, जबकि सिपाही परगट सिंह (30) हरियाणा में करनाल के हैं। उनकी पत्नी रामनप्रीत कौर और एक बेटे हैं।




कुलदीप सिंह (30), जिनका अस्पताल में निधन हो गया था, पंजाब के भटिंडा से थे और उनकी पत्नी और दो बच्चे हैं। सेना ने कहा कि पाकिस्तान सेना की चौकियों पर भारतीय सेना ने “जोरदार और कारगर ढंग से जवाब दिया है”

खुफिया सूत्रों का कहना है कि सीमा पार से गोलीबारी आईईडी विस्फोट से पहले हुई थी और आतंकियों ने भारतीय गश्ती पर गोलीबारी की थी।

“यह घटना केरी सेक्टर के टॉप बाट गैला इलाके में हुई थी। यह 23 दिसंबर को लगभग 12.15 बजे हुआ, “एक सूत्र ने कहा। सेना ने हालांकि, किसी भी आइईडी विस्फोट से इंकार किया।




इन्फो फ्रॉम – हिंदुस्तान टाइम्स

कमेंट करे

%d bloggers like this: