डिफ़ेन्स पर्सन के लिए SBI शौर्य होम लोन के फ़ायदे।

Home loan for defence person

डिफ़ेन्स पर्सन सर्विस के दौरान या रिटायरमेंट के बाद नए घर का कन्स्ट्रक्शन अवश्य करता हैं। या फिर वह रेडी टू मूव फ़्लैट या घर ख़रीदता हैं। डिफ़ेन्स पर्सन की लाइफ़ का यह हाई वैल्यू परचेज होता हैं। इसलिए अधिकतर समय वह बैंक से होम लोन ज़रूर लेता हैं। क्योंकि होम लोन का इंट्रेस्ट रेट भी कम हैं तथा PM आवास योजना के तहत 2.67 लाख रुपए की इंट्रेस्ट सब्सिडी भी दी जाती हैं। PM आवास योजना की सब्सिडी के बारे में किसी अन्य पोस्ट में डिटेल से बात करेंगे। यह भी सभी जानते हैं कि अधिकतर डिफ़ेन्स पर्सन के सैलरी अकाउंट SBI बैंक में हैं। जिसे हम DSP अकाउंट भी कहते हैं। इसलिए मैक्सिमम डिफ़ेन्स पर्सनल SBI बैंक से ही होम लोन लेना प्रिफ़र करते हैं।

इस पोस्ट में बात करेंगे SBI बैंक द्वारा सिर्फ़ डिफ़ेन्स पर्सन को दिया जाने वाला होम लोन के बारे में। जिसे SBI शौर्य होम लोन कहते हैं। सबसे पहले बात करते हैं कि SBI Shaurya Home Loan के लिए कौन कौन अप्लाई कर सकते हैं।

SBI Shaurya Home Loan Eligibility

  1. शौर्य होम लोन के लिए इंडीयन आर्म्ड फ़ॉर्सेज़ के सर्विंग पर्सन अप्लाई कर सकते हैं।
  2. होम लोन के लिए मिनिमम आयु 18 वर्ष तथा अधिकतम आयु 75 वर्ष हैं।

SBI शौर्य होम लोन के फ़ायदे

  • कम इंट्रेस्ट रेट – यदि कोई भी डिफ़ेन्स पर्सन SBI शौर्य होम लोन लेता हैं तो उसे 0.05% कम इंट्रेस्ट देना होता हैं। उदाहरण के तौर पर यदि सामान्य होम लोन का इंट्रेस्ट रेट 8.55% हैं तो शौर्य होम लोन के तहत डिफ़ेन्स पर्सन 8.50% लोन इंट्रेस्ट पे करता हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि SBI होम लोन इंट्रेस्ट रेट फ़्लोटिंग होते हैं। यानी RBI की रेपो रेट के अनुसार समय समय पर चेंज होते रहते हैं। आपकी सुविधा के लिए SBI बैंक के होम लोन के लेटेस्ट इंट्रेस्ट रेट नीचे दिए गए हैं। जैसे कि आप नीचे फ़ोटो में देख सकते हैं कि इंट्रेस्ट रेट में ज़्यादा बदलाव CIBIL SCORE के आधार पर हो रहा हैं। यदि आपका CIBIL SCORE अच्छा हैं तो आप 1% तक इंट्रेस्ट रेट में डिस्काउंट प्राप्त कर सकते हैं। CIBIL SCORE के बारे में डिटेल्स में चर्चा अगली पोस्ट में करेंगे।
SBI Shaurya Home Loan
  • ज़ीरो प्रॉसेसिंग फ़ी SBI बैंक शौर्य होम लोन के लिए प्रॉसेसिंग फ़ीस चार्ज नही करता हैं। आमतौर पर प्रॉसेसिंग फ़ीस लोन अमाउंट का 0.30% से लेकर 0.70% तक होती हैं। यह सभी बैंकों की अलग अलग होती हैं। उदाहरण के लिए यदि हम प्रॉसेसिंग फ़ीस 0.40% मान कर चले तो आप 20 लाख के लोन पर 8000 रुपए सेव कर सकते हैं। क्योंकि शौर्य होम लोन में प्रॉसेसिंग फ़ीस नही लगती हैं। परंतु डिफ़ेन्स पर्सन को प्रॉपर्टी सर्च के लिए एडवोकेट फ़ीस, लोन अग्रीमेंट के लिए स्टाम्प डूटी पे करने पड़ते हैं।
  • नो हिडन फ़ीस – SBI बैंक क्लेम करता हैं कि शौर्य होम लोन के तहत बैंक कोई भी हिडन फ़ीस नही चार्ज करता हैं। जब भी कोई बैंक से होम लोन लेता हैं तो कुछ चार्जेज होते हैं जो लोन लेते समय नही बताए जाते हैं परंतु बाद में चार्ज कर लिए जाते हैं। उन्हें आम तौर पर हिडन फ़ीस कहते हैं। इनमे मुख्यतः होम लोन प्रॉसेसिंग फ़ीस, होम लोन अड्मिनिस्ट्रेशन फ़ीस, स्टाम्प डूटी & रेजिस्ट्रेशन चार्ज, GST ऑन होम लोन, प्रॉपर्टी के लिए लीगल असससमेंट फ़ीस, डॉक्युमेंटेशन चार्ज, क्रेडिट स्कोर रिपोर्ट चार्ज, होम लोन डूरेशन चेंज फ़ीस, EMI लेट पेमेंट पेनल्टी, होम लोन प्री पेमेंट चार्जेज़, चेक बाउन्स चार्जेज़, होम लोन इन्सिडेंटल चार्ज होते हैं। लोन लेने से पहले लोन अधिकारी से अवश्य पूछ ले कि ये चार्ज शौर्य होम लोन के तहत पे करने हैं या नही। अगर पे करने हैं तो कितने।
  • नो प्री पेमेंट पेनल्टी – प्री पेमेंट चार्ज उस समय पे करना होता हैं जब आप होम लोन को टेन्योर कम्प्लीट होने से पहले ही पे कर देते हैं। उदाहरण के तौर पर, यदि डिफ़ेन्स पर्सन ने 20 लाख रुपए 20 वर्ष के लिए शौर्य होम लोन लिया हैं। परंतु वह 20 वर्ष की बजाय लोन को 5 वर्ष में ही पे कर देता हैं तो उसे प्री पेमेंट चार्ज पे नही करना होता हैं। यह भी एक हिडन चार्ज ही हैं। परंतु SBI शौर्य होम लोन के तहत कोई भी प्री पेमेंट चार्ज नही करता हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि SBI बैंक किसी भी होम लोन के लिए प्री पेमेंट चार्ज नही करता हैं। SBI ही नही अधिकतर बैंक होम लोन के लिए प्री पेमेंट चार्ज नही करते हैं।
  • इंट्रेस्ट डेली बैलेन्स के आधार पर चार्ज किया जाता हैं – यदि आप लोन के टेन्योर के दौरान बीच बीच में बल्क पेमेंट करते हैं तो इंट्रेस्ट बचे हुए बैलेन्स पर ही चार्ज किया जाता हैं। वैसे SBI बैंक यह सुविधा अन्य होम लोन में भी देता हैं।
  • 30 वर्ष तक री पेमेंट टाइम – सामान्य तौर पर बैंक होम लोन के लिए अधिकतम 20 वर्ष का पेमेंट का समय देते हैं। परंतु शौर्य होम लोन में डिफ़ेन्स पर्सन को अधिकतम 30 वर्ष का समय मिलता हैं। वैसे ज़्यादा लम्बे समय तक लोन की पेमेंट से डिफ़ेन्स पर्सन को ही नुक़सान होता हैं।
  • महिलाओं के लिए इंट्रेस्ट में छूट – यदि कोई महिला जो डिफ़ेन्स पर्सन हैं तथा शौर्य होम लोन लेती हैं तो उसे 0.10% का एक्स्ट्रा कन्सेशन मिलता हैं।

शौर्य होम लोन अमाउंट

डिफ़ेन्स पर्सन कितने अमाउंट तक का होम लोन ले सकते हैं, यह दो चीजों पर निर्भर करता हैं।

  1. आपकी सैलरी
  2. घर की कन्स्ट्रक्शन कोस्ट

सभी बैंक आपकी सैलरी के आधार पर ही कोई भी लोन देते हैं। सैलरी में आपकी नेट सैलरी देखी जाती हैं जो आपके DSP अकाउंट में क्रेडिट होती हैं। इसके अलावा आपके अकाउंट से दूसरी कोई EMI तो नही जा रही हैं यह भी चेक किया जाता हैं। उसके बाद लोन अमाउंट की कैल्क्युलेशन की जाती हैं। बैंक हाउस कन्स्ट्रक्शन कोस्ट या अपार्टमेंट की वैल्यू का लगभग 80% तक लोन करते हैं। इन दोनो कंडिशन के आधार पर ही लोन किया जाता हैं।

आने वाली पोस्ट में शौर्य होम लोन लेने के प्रॉसेस तथा जरुरी डॉक्युमेंट्स की बात करेंगे। यदि आप डिफ़ेन्स वेलफ़ेयर न्यूज़ से अप्डेट रहना चाहते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके फ़ौजी अड्डा आप डाउनलोड कर सकते हैं। टेलीग्राम ऐप में न्यूज़ प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करे

फ़ौजी अड्डा ब्लॉग का उदेशय डिफ़ेन्स पर्सन को वेलफ़ेयर स्कीम तथा अधिकारो के बारे में अवगत करना हैं। जो की फ़ौजी अड्डा टीम अच्छे से कर रही हैं। आपसे फ़ौजी अड्डा टीम उमीद करती हैं की आप भी न्यूज़ को Whatsapp ग्रूप में शेयर करे ताकि अधिक से अधिक डिफ़ेन्स पर्सन जागरूक हो सके। शेयर करने के लिए आप पोस्ट के अंत में दिए गए Share बटन पर क्लिक करके शेयर कर सकते हैं। यदि आपको इसके सम्बंध में ओर कोई जानकारी चाहिए या फ़ौजी अड्डा ब्लॉग के बारे में कोई फ़ीड्बैक देना चाहते हैं तो कॉमेंट अवश्य करे।

डिफ़ेन्स न्यूज़ ईमेल के ज़रिए प्राप्त करने के लिए अपना ईमेल डालकर सब्स्क्राइब का बटन अवश्य दबाए।

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

जय हिंद

1 thought on “डिफ़ेन्स पर्सन के लिए SBI शौर्य होम लोन के फ़ायदे।”

  1. Swaranjeet singh

    Sir defence person ko icici bank salery account me Home loan lene ke kya kya faide h pl poori datail de

कमेंट करे

%d bloggers like this: