सैनिक स्कूल एडमिशन 2019, फीस तथा डिफेंस पर्सन रिजर्वेशन।




सैनिक स्कूल भारत मे पब्लिक स्कूल की लिस्ट में बेस्ट माने जाते है। क्योंकि Sainik School में ना केवल एजुकेशन पर जोर दिया जाता है बल्कि ओवरआल पर्सनलिटी पर फोकस किया जाता है। इन स्कूल में स्टूडेंट को बचपन से ही अनुशासन में रहना सिखाया जाता है। सर्वप्रथम सैनिक स्कूल बनाने का आईडिया वर्ष 1961 में आया था जब भारत के रक्षा मंत्री V K Krishna Menon थे। सैनिक स्कूल बनाने का उद्देश्य भारतीय सेना के लिए देश के हर वर्ग से बच्चों को डिफेंस अफसर बनने के लिए तैयार करना था।

देश के विभिन्न राज्यो में अब 28 Sainik school है जो कि सैनिक स्कूल सोसाइटी द्वारा मैनेज किये जाते है। सैनिक स्कूल में रनिंग ट्रैक, क्रॉस कंट्री ट्रैक, इंडोर गेम्स, परेड ग्राउंड, बॉक्सिंग रिंग्स, फायरिंग रेंज, हॉर्स राइडिंग क्लब, माउंटेनियरिंग क्लब, हाईकिंग, ट्रैकिंग क्लब, फुटबाल स्टेडियम, क्रिकेट स्टेडियम, हॉकी स्टेडियम, बास्केटबॉल तथा वॉलीबॉल जैसी सभी सुविधाएं रहती है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि sainik school में NCC training भी दी जाती है तथा पास होने के पश्चात NCC Certificate भी दिया जाता है। NCC ट्रेनिंग sainik school में पड़ने वाले छात्रों के लिए कंपल्सरी होती है।

Sainik school में कैंडिडेट को इस तरह से एजुकेशन होती है कि वह भविष्य में NDA तथा NA जैसे एग्जाम को आसानी से पास कर सके तथा भारतीय सेना में अफसर रैंक से Indian army join कर सके।




Sainik school में देश के हर वर्ग गरीब तथा अमीर के बच्चे एडमिशन ले सकते है। इसके लिए उन्हें सैनिक स्कूल एंट्रेंस एग्जाम में पास होना पड़ता है। इस पोस्ट में हम सैनिक स्कूल लिस्ट, सैनिक स्कूल फीस, सैनिक स्कूल प्रवेश प्रक्रिया, सैनिक स्कूल एडमिशन 2019, प्रवेश प्रक्रिया का सिलेबस, डिफेंस सर्विंग सोल्जर तथा Ex-servicemen reservation ओर प्रवेश परीक्षा गाइड के बारे में बात करेंगे।

Image source : wikipedia

सैनिक स्कूल लिस्ट

जैसा कि हमने बताया कि पूरे देश मे फिलहाल 28 सैनिक स्कूल है जिनमे कुछ प्रपोजल में है तथा अधिकतर सफ़लतापूर्वरक काम कर रहे है। नीचे दी गयी टेबल में सभी स्कूल की लिस्ट दी गयी है। इस लिस्ट में सैनिक स्कूल कांटेक्ट नंबर तथा ईमेल एड्रेस भी दिया गया है ताकि एडमिशन लेने के लिए इच्छुक कैंडिडेट कांटेक्ट कर सके।




Sainik School List

Sainik school fee structure

जैसा कि हमने बताया कि सैनिक स्कूल रेजिडेंशियल होते है यानी स्टूडेंट्स को होस्टल में रहने की सुविधा मिलती है। इसलिए अन्य स्कूल की तुलना में कुछ एक्स्ट्रा चार्जेज भी होते है। उदाहरण के तौर पर मेस चार्जेज, पॉकेट मनी, क्लॉथ वाशिंग चार्जेज इत्यादि। नीचे दी गयी टेबल में हमने सभी सैनिक स्कूल की लगभग फीस बताई है जो कि सेशन 2019 – 2020 के लिए है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इंसमे सिर्फ ट्यूशन फीस, मेस चार्ज, इंसिडेंटल चार्ज तथा क्लोथिंग चार्ज दिए गए है। परन्तु टोटल फीस में हमने अन्य चार्ज भी जोड़ दिए है। इसलिए यदि आप फीस के चारो कॉम्पोनेन्ट को जोड़ेंगे तो वह टोटल फीस के साथ मैच नही होंगे। नीचे दी गयी टेबल में सभी स्कूल की लगभग फीस दी गई है।

Sainik School Fee Structure

जैसा कि आप ऊपर टेबल में देख सकते है कि सभी sainik school fee structure नही दी गयी है क्योंकि हमें अभी तक सिर्फ इन्ही स्कूल की फीस स्ट्रक्चर पता चली है। जैसे ही अन्य sainik school fee पता चलेगी वह अपडेट कर दी जाएगी।

सैनिक स्कूल ट्यूशन फीस प्रति वर्ष 10% तक बढ़ाई जा सकती है। मैसिंग चार्ज भी महंगाई पर निर्भर करते है तथा वह भी समय समय पर रिवाइज होते रहते है। आपके अंदाजे के लिए बता दे कि जो फीस दी गयी है उससे आप 10000 रुपये प्रति वर्ष अधिक ही मानकर चले। क्योकि इस फीस से अलग भी कुछ चार्ज होते है।

यह भी पढे

Army public school list, fee & admission procedure

अब बात करते है फीस भरने की। sainik school fee वर्ष में एक बार या वर्ष में दो बार या प्रत्येक 3 महीने में एक बार भरी जा सकती है। यह फीस प्रत्येक महीने भरने का कोई प्रावधान नही है। कैंडिडेट द्वारा फीस ऑनलाइन भी जमा की जा सकती है।

Sainik school में पढने वाले छात्रों को प्रत्येक वर्ष स्कालरशिप भी दी जाती है जिसकी जानकारी इस प्रकार है।

Sainik school scholarship scheme

Sainik school में पढ़ने वाले छात्रों को स्टेट गवर्मेंट तथा मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस (MOD) द्वारा स्कालरशिप भी दी जाती है। प्रत्येक राज्य सरकार द्वारा स्कालरशिप का क्राइटेरिया अलग अलग रखा गया है। इंसमे राज्य सरकार द्वारा पैरेंट की वार्षिक इनकम तथा केटेगरी के आधार पर स्कालरशिप दी जाती है।

परन्तु MOD (Ministry of Defence) द्वारा डिफेंस सर्विंग पर्सनेल तथा Ex servicemen के डिपेंडेंट को स्कालरशिप दी जाती है। डिफेंस केटेगरी स्टूडेंट के लिए कोई भी इनकम स्लैब या केटेगरी नही रखी गयी है। MOD द्वारा सैनिक स्कूल स्कालरशिप केवल JCO तथा अन्य रैंक के डिपेंडेंट को ही दी जाती है। डिफेंस पर्सन के बच्चों को मिलने वाली स्कालरशिप की डिटेल्स इस प्रकार है।

सैनिक स्कूल प्रवेश प्रक्रिया

Sainik school admission procedure बहुत ही साधारण है। प्रत्येक वर्ष सैनिक स्कूल प्रवेश प्रक्रिया के लिए AISSEE (All India Sainik School Entrance Examination) कंडक्ट किया जाता है। उस एंट्रेंस एग्जाम के आधार पर, इंटरव्यू के आधार पर तथा मेडिकली फिट कैंडिडेट की मेरिट लिस्ट बनाई जाती है। जिसके बाद उनका सैनिक स्कूल में एडमिशन किया जाता है। अब बात करते sainik school admission procedure 2020 -2021 के बारे में।

Sainik school admission Procedure 2020 -2021

सैनिक स्कूल सोसाइटी द्वारा एडमिशन के लिए नोटिफिकेशन जारी हो चुका है। AISSEE में एपीयर होने के लिए कैंडिडेट को सबसे पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य है। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की तिथि 5 अगस्त 2019 से लेकर 10 अक्टूबर 2019 तक है।

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फीस जनरल तथा डिफेंस केटेगरी के लिए 400 रुपये तथा SC, ST के लिए 250 रुपये है। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन sainikschooladmission .in की वेबसाइट पर किया जा सकता है। सैनिक स्कूल एंट्रेंस एग्जाम के लिए सफलतापूर्वक अप्लाई करने वाले कैंडिडेट 2 दिसंबर 2019 को एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते है। सैनिक स्कूल एंट्रेंस एग्जाम 5 जनवरी 2020 को कंडक्ट किया जाएगा।




03 फरवरी से 7 फरवरी तक फाइनल मेरिट लिस्ट लगाई जाएगी। उसके पश्चात 20 फरवरी 2020 से 10 मार्च 2020 तक सिलेक्टेड कैंडिडेट का मेडिकल एग्जाम कंडक्ट किया जाएगा। 20 मार्च 2020 को वेटिंग लिस्ट के साथ फाइनल मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। उसके बाद विललिंग पेरेंट्स अपने बच्चे का एडमिशन सैनिक स्कूल में कर सकेंगे।

आल इंडिया सैनिक स्कूल एंट्रेंस एग्जामिनेशन (AISSEE) से सम्बंधित महत्वपूर्ण डेट नीचे टेबल में दी गयी है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि sainik school admission केवल VI तथा IX क्लास के लिए है। यानी जो स्टूडेंट अब V तथा VIII क्लास में पढ़ रहे है वही sainik school entrance exam के लिए अप्लाई कर सकते है।

इसके अतिरिक्त जो कैंडिडेट कक्षा 6वी के लिए अप्लाई कर रहे है उनकी आयु 10 वर्ष से 12 वर्ष के बीच होनी चाहिए। कक्षा IX के लिए अप्लाई करने वाले कैंडिडेट की आयु 13 वर्ष से 15 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आयु 31 मार्च 2020 को ली जाएगी। अब बात करते है sainik school reservation के बारे में।




सैनिक स्कूल रिजर्वेशन पालिसी

Sainik school admission में प्रत्येक वर्ष क्लास VI तथा क्लास IX के लिए लिमिटेड सीट होती है। सैनिक स्कूल एडमिशन प्रक्रिया में भी रिजर्वेशन पालिसी को फॉलो किया जाता है। कुल सीट का 15% SC तथा 7.5% सीट ST के लिए रिज़र्व रहती है।

बची हुई सीट में 67% उस राज्य के बच्चों के लिए रिज़र्व रहती है जिसमे सैनिक स्कूल उपस्थित है। बची हुई 33% सीट अन्य स्टेट तथा केंद्र शासित प्रदेश के बच्चों के लिए ओपन रहती है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सैनिक स्कूल में 25% सीट डिफेंस सर्विंग सोल्जर तथा Exservicemen के बच्चों के लिए आरक्षित होती है।

अब बात करते है आल इंडियन सैनिक स्कूल एंट्रेंस एग्जाम के सिलेबस के बारे में।

Sainik School Exam pattern & Exam Syllabus

जैसा कि हमने पहले बताया कि सैनिक स्कूल में एडमिशन कक्षा VI तथा IX के लिए किया जाता है। इसलिए दोनों कक्षा के एंट्रेंस एग्जाम का पैटर्न तथा सिलेबस भी अलग अलग होता है। कक्षा VI में एडमिशन के लिए एग्जाम में मैथ, सामान्य ज्ञान, लैंग्वेज तथा इंटेलिजेंस से प्रशन आते है। एग्जाम कुल 300 मार्क्स का होता है तथा 150 मिनट का समय मिलता है। सब्जेक्ट वाइज क्वेश्चन की डिटेल नीचे टेबल में दी गयी है।




अब बात करते है कक्षा IX के एंट्रेंस एग्जाम के बारे में। इस एग्जाम में कुल 5 सब्जेक्ट से क्वेश्चन पूछे जाते है। क्वेश्चन मैथ, इंग्लिश, इंटेलिजेंस, जनरल साइंस तथा सोशल स्टडीज से पूछे जाते है। एग्जाम में कुल मार्क्स 400 होते है तथा कुल क्वेश्चन 150 होते है। इस एग्जाम के लिए कैंडिडेट को 180 मिनट का समय दिया जाता है।

दोस्तो यह थी sainik स्कूल के बारे में डिटेल में जानकारी। यह जानकारी आपको कैसी लगी, हमे जरूर बताये। यदि आपको इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी चाहिए तो आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते है।

यदि आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे सोशल मीडिया पर अवश्य शेयर करे।

जय हिंद जय भारत।

8 thoughts on “सैनिक स्कूल एडमिशन 2019, फीस तथा डिफेंस पर्सन रिजर्वेशन।”

कमेंट करे

%d bloggers like this: