प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी लाइसेंस कैसे प्राप्त करे?




बिज़नेस ग्रोथ के साथ छोटे छोटे बिजनेस की जरूरतें भी चेंज हो रही है। आजकल रेस्टोरेंट, हॉस्पिटल्स, क्लीनिक, स्कूल्स, कंपनी, फैक्टरी, मल्टीप्लेक्स, मॉल्स, रेजिडेंस इत्यादि पर सिक्योरिटी गार्ड मिलना साधारण बात है। सिक्योरिटी गार्ड की डिमांड समय के साथ साथ बहुत तेजी से बढ़ रही है। यही कारण है कि सिक्योरिटी एजेंसी एक बहुत ही प्रॉफिटेबल बिजनेस भी बन गया है। इस बिजनेस में इन्वेस्टमेंट कम तथा प्रॉफिट इन्वेस्टमेंट की तुलना में अधिक होता है। Ex servicemen के लिए यह बहुत ही परफेक्ट बिजनेस है क्योंकि उन्हें सिक्योरिटी के बारे में सबसे अधिक एक्सपीरियंस होता है। इस पोस्ट में बात करेंगे कि कैसे भारत मे प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी शुरू की जा सकती है।

How to start Private Security Agency

Register security firm

सिक्योरिटी एजेंसी शुरू करने के लिए सबसे पहले फर्म का रजिस्टर करना आवश्यक है। सिक्योरिटी एजेंसी फर्म रजिस्टर करने के लिए सबसे पहले अपनी कंपनी का नाम रखे तथा उस नाम से अपनी फर्म रजिस्टर करें।

फर्म/कंपनी 3 प्रकार से रजिस्टर की जा सकती है।

  1. Proprietorship
  2. Partnership
  3. Private limited

यदी आप सिक्योरिटी एजेंसी के अकेले ओनर बनना चाहते है तो Proprietorship के तहत फर्म रजिस्टर करें। इंसमे डॉक्यूमेंटेशन भी सबसे कम होता है तथा प्रति वर्ष होने वाली कागज कार्यवाही पार्टनरशिप तथा प्राइवेट लिमिटेड की तुलना में बहुत कम है।

यदि सिक्योरिटी एजेंसी को पार्टनरशिप में खोलना चाहते है तो किसी दोस्त, पत्नी, रिलेटिव के साथ पार्टनरशिप में फर्म का रजिस्टर करें। पार्टनरशिप में डॉक्यूमेंटेशन proprietorship की तुलना में अधिक होता है।

यदि सिक्योरिटी एजेंसी बड़े स्तर पर खोलना चाहते है तो प्राइवेट लिमिटेड के तौर पर फर्म रजिस्टर करें। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि प्राइवेट लिमिटेड फर्म रजिस्टर करने में तथा प्रति वर्ष डॉक्यूमेंटेशन बहुत अधिक होता है। इसलिए आपसे सुझाव यही रहेगा कि आरम्भ में सिक्योरिटी एजेंसी Proprietorship या पार्टनरशिप में ही रजिस्टर करें। कंपनी रजिस्टर करने के लिए किसी भी चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) की मदद ले सकते है।




फर्म रजिस्टर करने के पश्चात ही आगे की कार्यवाही की जा सकती है। इसके पश्चात अगला स्टेप होता है सर्विस टैक्स रजिस्ट्रेशन का।

GST registration

सिक्योरिटी एजेंसी अपने कस्टमर को सर्विस प्रदान करती है इसलिए वो सर्विस टैक्स के दायरे में आती है। सिक्योरिटी एजेंसी चलाने के लिए GST रेजिस्ट्रेशन करना जरूरी है। फर्म रजिस्टर होने के पश्चात चार्टेड अकाउंटेंट की सहायता से GST रेजिस्ट्रेशन के लिए अप्लाई कर सकते है।

ESI (Employee State Insurance) Registration

यदि सिक्योरिटी एजेंसी में सिक्योरिटी गार्ड या वर्कर की संख्या 10 से अधिक है तो कंपनी को ESI के लिए रेजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य है। ESI एक insurance स्कीम होती है जो कि एम्प्लोयी को insurance की सुविधा प्रदान करती है। सिक्योरिटी एजेंसी खोलरे समय ESI के लिए जरूर रजिस्टर करना चाहिए क्योंकि कुछ समय के पश्चात ही वर्कर की संख्या बढ़कर 10 से अधिक हो जाती है। इसलिए प्रारम्भ में ही ESI के लिए रजिस्टर करले। इसके अतिरिक्त लेबर कोर्ट में रजिस्ट्रेशन करवा दें।

PF (Providient Fund) Registration

जब भी किसी कंपनी में एम्प्लोयी की संख्या 20 से अधिक हो जाती है तो उस कंपनी को प्रोविडेंट फण्ड के लिए रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य हो जाता है। सिक्योरिटी एजेंसी खोलते समय ही ओनर को PF रजिस्ट्रेशन करवा लेना चाहिए।

Security Agency खोलते समय मुख्य रूप से ऊपर दिए गए रेजिस्ट्रेशन (फर्म रेजिस्ट्रेशन, GST रेजिस्ट्रेशन, ESI रेजिस्ट्रेशन तथा PF रेजिस्ट्रेशन) करवाने जरूरी होते है। इसके पश्चात ही सिक्योरिटी लाइसेंस के लिए अप्लाई कर सकते है।

प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी

Eligibility for Security Agency License





सिक्योरिटी एजेंसी लाइसेंस Private Security Agency Regulation Act 2005 के तहत जारी किया जाता है जिसे PSARA भी कहते है। इस एक्ट में private security guard agency से सम्बंधित सभी हिदायते दी गयी है। PSARA लाइसेंस के बगैर प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी नही चलाई जा सकती है। इसलिए प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी लाइसेंस होना अनिवार्य है। PSARA लाइसेंस के लिए एलिजिबिलिटी इस प्रकार है।

  1. PSARA एप्लिकेंट एक इंडियन रेजिडेंट होना चाहिए जिसकी फाइनेंसियल कंडीशन ठीक हो तथा किसी भी अपराध में दोषी न हो। इसके लिए लोकल पुलिस द्वारा वेरिफिकेशन किया जाता है तथा एप्लिकेंट को ITR (Income Tax Return) की फोटोकॉपी भी जमा करनी होती है।
  2. एप्लिकेंट को स्टेट कंट्रोलिंग अथॉरिटी द्वारा एप्रूव्ड security guard training institute के साथ MOU साइन करना होता है जो कि ये सुनिश्चित करता है कि सिक्योरिटी गार्ड की ट्रेनिंग, ट्रेनिंग इंस्टीटूट में PSARA एक्ट के तहत कराई जाएगी। Ex servicemen के लिए इस ट्रेनिंग में विशेष छूट रहती है।

Documents required for Security agency license

  1. इनकारपोरेशन सर्टिफिकेट (proprietorship, partnership, private limited)
  2. ट्रेनिंग इंस्टीटूट के साथ MOU
  3. रजिस्टर्ड आफिस का प्रूफ (रेंट एग्रीमेंट)
  4. डाक्यूमेंट्स ऑफ़ सिक्योरिटी गार्ड्स
  5. एप्लिकेंट के दो फोटोग्राफ
  6. डायरेक्टर का आइडेंटिटी कार्ड तथा एड्रेस प्रूफ
  7. ITR कॉपी
  8. एप्लिकेंट के PAN कार्ड की कॉपी
  9. GST रेजिस्ट्रेशन
  10. ESI रेजिस्ट्रेशन
  11. PF रेजिस्ट्रेशन
  12. एप्लिकेंट एजुकेशन क्वालिफिकेशन
  13. फर्म का लोगो तथा बैज
  14. आर्म्स लाइसेंस डिटेल्स
  15. सिक्योरिटी एजेंसी का यूनिफार्म पैटर्न (यूनिफार्म में सिक्योरिटी गार्ड्स के फोटो)
  16. पुलिस वेरिफिकेशन रिपोर्ट

Procedure for  Private Security Agency License

  1. PSARA (Private Security Agency Regulation Act) license के लिए सबसे पहले महत्वपूर्ण डाक्यूमेंट्स जैसे कंपनी रजिस्ट्रेशन, GST रेजिस्ट्रेशन, ESI, PF रेजिस्ट्रेशन, डायरेक्टर का PAN कार्ड तथा ITR कॉपी जैसे डाक्यूमेंट्स तैयार करे।
  2. सिक्योरिटी गार्ड तथा सुपरवाइजर की ट्रेनिंग के लिए राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त सिक्योरिटी गार्ड ट्रेनिंग इंस्टीटूट के साथ MOU(Memorandum Of Understanding) साइन करे।
  3. पुलिस वेरिफिकेशन के लिए Form -I में एक एप्लीकेशन सबमिट करें ताकि एप्लिकेंट की पुलिस द्वारा वेरिफिकेशन हो सके।



  4. PSARA लाइसेंस के लिए आवश्यक फॉर्म तथा ऊपर बताये गए सपोर्टिंग डाक्यूमेंट्स के साथ स्टेट कंट्रोलिंग अथॉरिटी को सबमिट करें। इसके पश्चात कंट्रोलिंग अथॉरिटी सभी डाक्यूमेंट्स वेरीफाई करती है तथा पुलिस द्वारा NOC (No Objection Certificate) मिलने के पश्चात ही PSARA लाइसेंस जारी करती है या डाक्यूमेंट्स में त्रुटि होने से रिजेक्ट कर सकती है।
  5. सभी डाक्यूमेंट्स ठीक होने पर पूरे प्रोसेस में 90 दिन तक का समय लगता है।
  6. एक राज्य से PSARA लाइसेंस मिलने से केवल उसी राज्य में सिक्योरिटी एजेंसी ऑपरेट कर सकती है यदि दूसरे किसी राज्य में भी ऑपरेट करना चाहती है तो एप्लिकेंट को दूसरे राज्य में भी PSARA लाइसेंस के लिए अप्लाई करना होता है।
  7. Private security Agency लाइसेंस एक डिस्ट्रिक्ट, 5 डिस्ट्रिक्ट या पूरे स्टेट के लिए अप्लाई किया जा सकता है जिसके लिए फीस अलग अलग होती है।

Private Security Agency License Fee

PSARA लाइसेंस की फीस नीचे टेबल में दी गयी है।

एरियाफीस (रुपये में)
एक डिस्ट्रिक्ट के लिए5000
2 से 5 डिस्ट्रिक्ट के लिए10000
पूरे स्टेट के लिए25000

यह फीस सभी राज्यो में समान है केवल कर्नाटक राज्य में पूरे स्टेट के लिए सिक्योरिटी एजेंसी लाइसेंस के लिए 25000 की बजाय 50000 रुपये फीस लगती है।

आपकी जानकारी के लिए बतादे की सिक्योरिटी एजेंसी लाइसेंस की वैलिडिटी 5 वर्ष होती है तथा उसके पश्चात लाइसेंस को रिन्यू करना होता है।

इस प्रकार सिक्योरिटी एजेंसी लाइसेंस प्राप्त कर Ex servicemen प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी शुरू कर सकते है। सिक्योरिटी गार्ड एजेंसी से सम्बंधित यदि आपको कोई भी क्वेरी हो तो कमेंट करके अवश्य पूछे।

जानकारी अच्छी लगी हो तो फेसबुक तथा व्हाट्सएप्प ग्रुप में अवश्य शेयर करे।

56 thoughts on “प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी लाइसेंस कैसे प्राप्त करे?”

  1. सिक्योरिटी गार्ड तथा सुपरवाइजर की ट्रेनिंग के लिए राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त सिक्योरिटी गार्ड ट्रेनिंग इंस्टीटूट के साथ MOU(Memorandum Of Understanding) साइन करे। i want this format for license in maharashtra plz provide

  2. Bapusaheb Jadhav

    Sir Jai Hind I want to open asecurity agency in maharashtra already i have complete all documents but i cant understant where and how to procedure any assistance please help me Sir

    1. चलाने के लिए आप चला सकते है। उदाहरण के तौर पर बगैर लाइसेंस के भी बहुत लोग व्हीकल चलाते है। परन्तु वह कानूनी रूप से गलत है। भारत मे सिक्योरिटी एजेंसी चलाने के लिए psara लाइसेंस होना चाहिए

    1. जी नही, सिक्योरिटी गार्ड लाइसेंस कोई भी ले सकता है।

  3. hemant kumar mishra

    सर नमस्कार
    मै एक सिक्योरिटी एजेंसी खोलना चाहता हूँ मैं एक सिविलियन हूँ मतलब मै न तो फौजी हूँ और न ही किसी फोर्स या पुलिस से भी नहीं हूँ क्या मै सिक्योरिटी एजेंसी खोल सकता हूँ प्रोपराइटर शिप में

    1. जी आप बिलकुल खोल सकते है। PSARA लाइसेंस के लिए फौजी होना अनिवार्य नही है।

  4. सर मेरे फादर Ex. Service man हैं तो मुझे सिक्योरिटी एजेन्सी का laicence निकालना हैं तो ओ कैसे निकाले प्लिज सर हैल्प किजिये

  5. Girdhari Lal jaiswal

    Kya Security Agency lene ke liye Malik ko Forge share retirement hona avashyak hai

    1. जी नही, प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी स्टार्ट करने के लिए डिफेंस फ़ोर्स से रिटायर होना अनिवार्य नही है।

    1. PSARA के लिए सभी योग्यता इस पोस्ट में दी गयी है कृपा करके पोस्ट को ध्यान से पढ़े।

    1. प्राइवेट सिक्योरिटी एजेंसी के लिए आर्मी बैकग्राउंड अनिवार्य नही है। एक सिविलियन भी PSARA के लिए अप्लाई कर सकता है यदि वह सभी योग्यता पूरी करता है ।

    1. PSARA license के लिए इनकम की कोई सीमा नही है। यदि आप सभी टर्म्स कंडीशन पूरा करते है तो बिल्कुल PSARA के लिए अप्लाई कर सकते है।

  6. kya mai security company ko aage continue kr sakta hu agar jiske name pr licence tha or unki unconditional deat ho jaye , ya kya vo ye business apne forther genration ko hand over kr sakta h ky Vo isse continue kr sakenge unki. Life time k liye ??

  7. Sir mere father k name se security licence hii jo ki 08/11/2006 ka bana huaa hii tab se na koyi rinual huaa hiii ab use start karne ka prosis kiya hoga sir

  8. ललन कुमार

    सर मै सिक्योरिटी एजेंसी खोलना चाहता हु।
    कृपया उचीत सलाह दे।

  9. मे सेना मे कार्यरत हूँ क्या मे अपनी सिक्योरिटी कंपनी चला सकता हुं

  10. Narendra Singh

    Sir pasara ke liye kaha apply Kiya Jaye
    Mera Matlab hai kis office Mai or uttar pradesh Mai MOU me liye Kon se institute hai ।

  11. Shailendra Singh Chauhan

    Ahmedabad me SECURITY licence Lene ke liye kya kya documents chahiye, kya kya liberty hai.
    Meri Madhya pradesh me mm tiger security and labour supply Naam se SECURITY agency hai. Proprietor ship ka registration ,PF, E.S.I. GST . registration mere paas hai,

    1. PSARA लाइसेंस फीस स्टेट पर निर्भर करती है। परन्तु यह एक या दो स्टेट को छोड़कर समान है। PSARA लाइसेंस में एक डिस्ट्रिक्ट के लिए 5000 रुपये, 2 से 5 डिस्ट्रिक्ट के लिए 10000 रुपये तथा पूरे राज्य के लिए बनाने के लिए 25000 रुपये लगते है।

कमेंट करे

%d bloggers like this: