डिफेंस पर्सन की रिटायरमेंट ऐज हो सकती है 58 वर्ष।

military retirement age

भारत मे सर्विस पेंशन केवल भारतीय सेना में सर्विस कर रहे डिफेंस पर्सन को मिलती है। हालांकि सिविल एम्प्लोयी तथा पैरामिलिटरी पर्सन को नेशनल पेंशन स्कीम के तहत पेंशन मिलती है। जैसा कि हम जानते है कि डिफेंस पर्सन 35 वर्ष से 40 वर्ष की आयु में रिटायर हो जाते है। इसी से सम्बंधित देश के पहले CDS बिपिन रावत ने एक स्टेटमेंट जारी किया है।

चलिए बात करते है डिफेंस पर्सन के रिटायरमेंट के बारे में।

Defence Person Retirement Age

देश के प्रथम CDS बिपिन रावत ने JCO तथा अन्य रैंक के रिटायरमेंट से सम्बंधित कुछ मुख्य बात कही जो कि इस प्रकार है।

  • भारतीय सेना में अन्य रैंक 37 से 40 वर्ष की आयु में रिटायर हो जाते है तथा उन्हें दूसरे कैरियर की तलाश करनी पड़ती है। जबकि अफसर 54 से 57 वर्ष उम्र तक सर्विस करते है।
  • जब अफसर रिटायर होते है तो उस समय उनके बच्चे या सेटल हो चुके होते है या सेटल होने वाले होते है। इसलिए प्रॉब्लम अन्य रैंक के साथ है जो कि काफी जल्दी रिटायर हो जाते।
  • जल्दी रिटायर होने के कारण लम्बे समय तक पेंशन प्राप्त करते है। जिसके कारण पेंशन बिल लगातार बढ़ता जा रहा है।
  • CDS बिपिन रावत के अनुसार 1/3 सोल्जर से भी 58 वर्ष उम्र तक सेवा ली जा सकती है।
  • उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि AMC के 100% जवान 58 वर्ष की उम्र तक सर्विस दे सकते है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यह केवल अभी एक प्रपोजल है जिससे तीनो सेनाये अभी अध्यन कर रही है। CDS बिपिन रावत ने यह भी उम्मीद जताई कि इस वर्ष के अंत तक तीनो सेनाये इस विषय का विश्लेषण कर उन्हें रिपोर्ट शौप देंगे।

यह भी पढ़े

डिफेंस पर्सन रिटायरमेंट प्लानिंग कैसे करे

इसके अतिरिक्त एक लेटर भी मीडिया में सर्कुलेट हो रहा है जिसके अनुसार सेना में जवानों की रिटायरमेंट सर्विस की बजाय उम्र के आधार पर होगी। उदाहरण के तौर पर फिलहाल सिपाही रैंक में 17 वर्ष + 2 वर्ष सर्विस कर सकते है। इस हिसाब से वो 19 वर्ष से अधिक सर्विस नही कर सकते है।

जैसा कि अभी प्रपोजल चल रहा है उस के अनुसार सिपाही रैंक में 42 वर्ष उम्र तक सर्विस कर सकते है। यदि कोई 19 वर्ष की उम्र में सेना जॉइन करता है तो वह 23 वर्ष तक सिपाही रैंक में सर्विस कर पायेगा। इसका मतलब यह हुआ कि वह 42 वर्ष उम्र तक सर्विस कर सकता है। इसी प्रकार यह रूल दूसरे रैंक पर लागू होगी।

इसी प्रकार सर्विस तथा प्रमोशन के साथ साथ 58 वर्ष की आयु तक अन्य तथा JCO रैंक सर्विस कर पाएंगे। हालांकि यह अभी एक प्रपोजल है तथा इसमें सुझाव के अनुसार चेंज होने की भी उम्मीद कर सकते है। हालांकि इसमें पेंसिनेबल सर्विस की कोई बात नही कहि गयी है। यानी पेंसिनेबल सर्विस 15 वर्ष ही रह सकती है।

हालांकि इस सर्विस एक्सटेंशन के लिए सोल्जर फिटनेस, ACR तथा मेडिकल केटेगरी तथा मौजूद सर्विस एक्सटेंशन के रूल लागू होंगे। इन सभी को ध्यान में रखकर ही सर्विस एक्सटेंशन की जाएगी। यदि यह प्रपोजल लागू होता है तो उन जवानों के लिए यह एक अच्छा डिसिशन होगा जो लम्बी सर्विस करना चाहते है।

सेना की सर्विस बढ़ने से होने वाले फायदे तथा नुकसान के बारे में यहां क्लिक करके पढ़ सकते है।

इस डिसिशन से सरकार का पेंशन बिल जरूर कम होगा। इसके अतिरिक्त जवान लम्बी सर्विस कर पाएंगे। दोस्तो ये तो फिलहाल प्रपोजल है। सभी रूल्स तो यह लागू होने के बाद ही पता चलेगा। इसे लागू होने में भी काफी समय लगेगा।

आपकी इस प्रपोजल के बारे में क्या राय है। नीचे दिए गए पोल में वोट देकर अपनी राय अवश्य बताये ताकि यह पता चले कि यह प्रपोजल फायदेमंद है या नही।

क्या भारतीय सेना की सर्विस 58 वर्ष तक होनी चाहिए?
53 votes · 53 answers

यदि आप इस प्रपोजल के सम्बंध में अपनी राय देने चाहते है तो आप डिफेंस वेलफेयर फोरम जॉइन कर सकते है। इस फोरम को जॉइन करना बिल्कुल मुफ्त है तथा इस पर सेना के वेलफेयर से सम्बंधित महत्वपूर्ण टॉपिक पर डिस्कशन होता है।

फोरम जॉइन करने के लिए यहां क्लिक करे।

यदि जानकारी अच्छी लगी हो तो दोस्तो के साथ अवश्य शेयर करे।

जय हिंद जय भारत

यह जानकारी दोस्तों साथ शेयर करे


1 thought on “डिफेंस पर्सन की रिटायरमेंट ऐज हो सकती है 58 वर्ष।”

  1. praveen kumar

    Kale angrejo ki gulami nhi krni . Jawan 35 yr me khush h aajkl jawan promotion chodkr aa rhe ye sb kale angrejo ke wajah h.

कमेंट करे